T-20 वर्ल्ड कप 2021 में अब बहुत कम समय ही बचा है। 17 अक्टूबर से टी-20 वर्ल्ड कप का आगाज यूएई की धरती पर होने जा रहा है। कई देशों ने टी-20 वर्ल्ड कप के लिए अपनी टीम का ऐलान कर दिया है। वही, टी-20 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम का ऐलान 7 सितंबर को किया जाएगा। सेलेक्टर्स टी-20 वर्ल्ड कप के लिए मजबूत टीम को उतारने चाहेंगे। जिसमे विस्फोटक बल्लेबाजों की भरमार हो और जो मैच पलटने का दुम रखते हो। ऐसे 4 खिलाड़ी है, जिन्हें पहली बार टी-20 वर्ल्ड कप का टिकट मिलना तय है।

1. पृथ्वी शॉ

T-20 वर्ल्ड कप की टीम में सेलेक्टर्स पृथ्वी शॉ को ओपनर के तौर पर मौका दे सकते है। ऐसे में पृथ्वी शॉ ओपनिंग में शिखर धवन का पत्ता काट सकते है। शिखर धवन का टी-20 में स्ट्राइक रेट इन दिनों कुछ खास नही रहा है। पृथ्वी शॉ का बल्ला इन दिनों खूब आग उगल रहा है। भारतीय क्रिकेट टीम में पृथ्वी शॉ को ओपनर के तौर पर टी-20 वर्ल्ड कप टूर्नामेंट के लिए मजबूत दावेदार माना जा रहा है।

T-20 वर्ल्ड कप की बात करे तो भारतीय टीम में रोहित शर्मा की जगह तो पूरी तरह से तय है। पिछले कई साल से शिखर धवन उनका साथ दे रहे है, लेकिन पृथ्वी शॉ ने शिखर धवन की मुश्किलें बढ़ा दी है। शिखर धवन के लिए पृथ्वी शॉ ने सिरदर्द का काम किया है। पृथ्वी शॉ ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खराब प्रदर्शन के बाद विजय हजारे ट्रॉफी और आईपीएल में लगातार अच्छा प्रदर्शन करते आ रहे है। एक तरह से उन्होंने इस बेकोफ बल्लेबाजी से अपना दावा मजबूत करते हुए धवन के स्थान को खतरे में डाल दिया है।

2. सूर्यकुमार यादव

T-20 वर्ल्ड कप की टीम में धाकड़ बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव की जगह तय मानी जा रही है। टी-20 वर्ल्ड कप की टीम में सूर्यकुमार यादव नंबर 5 पर बल्लेबाजी के प्रबल दावेदार माने जा रहे है। सूर्यकुमार यादव जैसा टेलेंटेड बल्लेबाज मैदान के चारो तरफ एक से बढ़कर एक शॉट्स खेलने और रन बटोरने की कला जानता है। टी-20 वर्ल्ड कप की टीम में सूर्यकुमार यादव की एंट्री पक्की लग रही है। टी-20 वर्ल्ड कप की टीम में सूर्यकुमार यादव नंबर 5 पर खेलते है तो फिर श्रेयस अय्यर की जगह खतरे में है। श्रेयस अय्यर चोट की वजह से लंबे समय से क्रिकेट से बाहर है।

3. ईशान किशन

टीम इंडिया के युवा खिलाड़ी ईशान किशन को टी-20 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम में मौका मिलना तय है। इस खिलाड़ी ने अपने आप को साबित किया है। ईशान किशन ताबड़तोड़ बल्लेबाज और शानदार विकेटकीपर भी है। आईपीएल में ईशान किशन ने मुम्बई इंडियंस को कई बार अकेले के दम पर मैच जिताया है और वह टीम इंडिया को भी टी-20 वर्ल्ड कप में ऐसे ही जीत दिलाना चाहते है। ईशान किशन ने यहा तक पहुँचने के लिए बहुत मेहनत की है।

जब ईशान किशन 12 साल के हुए तो उसे आगे खेलने के लिए रांची शिफ्ट होना पड़ा था। यहा ईशान को रांची में जिला क्रिकेट टूर्नामेंट में सेल (स्टील ऑथोरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड) की टीम में शामिल कर लिया गया था। सेल ने उसे रहने के लिए एक क्वार्टर दिया था। जिसमे उसके साथ चार अन्य सीनियर क्रिकेटर्स भी रहते थे। इस दौरान ईशान किशन को खाना बनाना भी नही आता था। इसी वजह से वो बर्तन धुलने और पानी भरने का काम करते थे और कई बार ईशान को भूखा सोना पड़ता था।

4. वरुण चक्रवर्ती

T-20 वर्ल्ड कप की टीम में वरुण चक्रवर्ती को मौका मिल सकता है। भारत के पास वरुण चक्रवर्ती के रूप में एक मिस्ट्री स्पिनर है, जो टी-20 वर्ल्ड कप से युजवेंद्र चहल का पत्ता काट सकते है। मिस्ट्री स्पिनर वरुण चक्रवर्ती सात तरीके से गेंद फेक सकते है। इनमे ऑफब्रेक, लेगब्रेक, गुगली, कैरम बॉल, फ्लिपर, टॉपस्पिन, पैर की अंगुलियों पर यॉर्कर शामिल है। वरुण चक्रवर्ती टी-20 वर्ल्ड कप में विरोधी टीमो के लिए घातक साबित हो सकते है। टी-20 इंटरनेशनल मैचो में अब तक वरुण चक्रवर्ती ने 3 मैच में 2 विकेट चटकाए है। वही, 21 IPL मैचो में उनके नाम 25 विकेट है।