विराट कोहली की कप्तानी वाली भारतीय क्रिकेट टीम ने इंग्लैंड को ओवल मैदान पर खेले गए चौथे टेस्ट मैच में 157 रनो से करारी मात दी। पांच मैचों की इस सीरीज में अब टीम इंडिया 2-1 से आगे हो गई है। चौथे टेस्ट में भारत को जीत दिलाने में एक अहम रोल टीम के ओपनिंग बल्लेबाज रोहित शर्मा का रहा। रोहित ने दूसरी पारी में शतक ठोक मैच में भारत की वापसी कराई, जिसके लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच का खिताब भी दिया गया। लेकिन रोहित का मानना है कि उन्हें ये अवॉर्ड नही मिलना चाहिए था।

इस खिलाड़ी को बताया दावेदार

रोहित शर्मा का मानना है कि उन्हें चौथे टेस्ट का प्लेयर ऑफ द मैच नही मिलना चाहिए था, बल्कि शार्दूल ठाकुर इस अवॉर्ड के सबसे बड़े दावेदार थे। मैच के बाद रोहित ने कहा कि मुझसे ज्यादा ये खिताब शार्दूल डिजर्व करते थे। BCCI टी वी से बातचीत करते हुए कहा,” यह उस प्रयास को दर्शाता है जो हमने सीरीज में अब तक लगाया है और यह अंत नही है, हम जानते है कि मैनचेस्टर में एक और मैच कभी रहता है।”

रोहित शर्मा ने आगे कहा,” मुझे लगता है कि शार्दूल ठाकुर प्रयास मैच जीतने वाला था। सच कहु तो वह अपने प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच के भी हकदार थे। शार्दूल ने इंग्लैंड का सबसे पहला विकेट झटक कर महत्वपूर्ण सफलता दिलाई। फिर जो रूट का अहम विकेट लेना खास था। हम उनकी बल्लेबाजी को कैसे भूल सकते है। पहली पारी में सिर्फ 31 गेंदों में 50 रन बनाना और फिर दूसरी पारी में 50 रन बनाना बहुत कुछ कहता है। वह अपनी बल्लेबाजी से प्यार करते है, और उन्होंने इस पर कड़ी मेहनत की है। मैंने उन्हें कई सालों से देखा है।”

शार्दूल ठाकुर का शानदार प्रदर्शन

इंग्लैंड के खिलाफ ओवल टेस्ट में शार्दूल ठाकुर के प्रदर्शन को कभी भुलाया नही जा सकता। शार्दूल ने पहली पारी में तब तेज तर्रार हाफ सेन्चुरी लगाई जब भारतीय टीम 120-130 के स्कोर पर ऑलआउट होने वाली थी। इसके अलावा एक बार फिर दूसरी पारी में शार्दूल ने 60 रनो की पारी खेल ऋषभ पंत के साथ 100 रनो की अहम साझेदारी की। वही गेंद से भी उनका प्रदर्शन बेहतरीन रहा, और उन्होंने दूसरी पारी में जो रुट और रोरी बर्न्स के अहम विकेट लिए।

भारत के बल्लेबाजो ने भी किया था कमाल

इस मैच की पहली पारी में जहा भारतीय बल्लेबाज पूरी तरह फ्लॉप रहे, वही दूसरी पारी में सभी ने कमाल कर दिया। टीम के हिटमैन रोहित शर्मा ने 127 रनो की शानदार शतकीय पारी खेली। वही चेतेश्वर पुजारा ने 61 रनो की पारी खेली। इसके अलावा ऋषभ पंत ने 50 और शार्दूल ठाकुर ने 60 रन बनाए। वही कप्तान विराट कोहली ने 42 रनो की पारी खेली। बल्लेबाजो के शानदार प्रदर्शन के दम पर ही टीम इंडिया दूसरी पारी में 466 रन बनाने में कामयाब रही।