ICC T-20 वर्ल्ड कप 2021 के लिए जब टीम इंडिया का ऐलान किया गया तब 15 सदस्य स्क्वाड में एक ऐसा नाम सामने आया, जिसकी किसी क्रिकेट फैंस को उम्मीद नही थी। हालांकि इससे ज्यादातर लोग खुश भी हुए।

T-20 वर्ल्ड कप में अश्विन

भारत के सीनियर स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को टी-20 वर्ल्ड कप 2021 के लिए टीम इंडिया में शामिल किया गया है। उनका तजुर्बा BCCI को इम्प्रेस कर गया और अब वो अपना वो अपना जलवा दिखाने को बेकरार है।

वाशिंगटन सुंदर हुए आउट

इस ग्लोबल टूर्नामेंट के लिए वाशिंगटन सुंदर का नाम तय माना जा रहा था, क्योंकि वो स्पिनर गेंदबाजी के साथ-साथ अच्छी बल्लेबाजी भी करते है। लेकिन इंग्लैंड टूर के दौरान चोट लग गई, जिसकी वजह से टी-20 वर्ल्ड कप 2021 के लिए उनका सलेक्शन नही हुआ और शायद इसी वजह से अश्विन की किस्मत खुल गई।

अश्विन को मिला तजुर्बे का फायदा

रविचंद्रन अश्विन (46) टी-20 इंटरनेशनल मैच खेल चुके है, जिसमे उन्होंने 6.97 की इकॉनमी रेट से 52 विकेट हाशिल किए है। जाहिर सी बात है कि भारतीय टीम मैनेजमेंट टी-20 वर्ल्ड कप जैसे बड़े टूर्नामेंट में उनका फायदा उठाना चाहती है।

अश्विन खेलेंगे आखिरी टी-20 वर्ल्ड कप

रविचंद्रन अश्विन के लिए ये आखिरी टी-20 वर्ल्ड कप शाबित हो सकता है और शायद उन्हें दोबारा ऐसा मौका ना मिले। इसकी वजह ये है कि अगला साल 2022 का टी-20 वर्ल्ड कप ऑस्ट्रेलिया में होगा, और वहा पेश गेंदबाज और फास्ट बॉलिंग ऑलराउंडर की ज्यादा जरूरत होगी।

2022 में खेलना मुश्किल

रविचंद्रन अश्विन 17 सितम्बर 2021 को 35 साल के हो जाएंगे, ऐसे में अगले टी-20 वर्ल्ड कप में उनका खेलना मुश्किल है। बीसीसीआई (BCCI) भी साल 2022 के इस ICC टूर्नामेंट में नए चेहरे को आजमाना चाहेगी।